Home खानदेश समाचार धुलिया के 2 बदमाशों को इंदौर पुलिस ने मुठभेड़ में पकड़ा ,...

धुलिया के 2 बदमाशों को इंदौर पुलिस ने मुठभेड़ में पकड़ा , 1 घायल

242
0
SHARE

धुलिया के 2 बदमाशों को इंदौर पुलिस ने मुठभेड़ में पकड़ा , 1 घायल

इंदौर (तेज़ समाचार प्रतिनिधि ): इंदौर पुलिस के हाथ एक बड़ी सफलता लगी है जिसमें मुठभेड़ के बाद महाराष्ट्र के दो बदमाशों को पकड़ा गया। मुठभेड़ में एक बदमाश घायल हुआ है। इन्होंने इंदौर के अन्नपूर्णा थाना क्षेत्र में 2 फ्लेट में सनसनीखेज चोरी की वारदात को अंजाम दिया था जिसमें लगभग सवा किलो से अधिक सोना भी चोरी गया था। इनके पास से वारदात में उपयुक्त कार, 1 लाख 40 हजार नक़्फ़ व सोना आदि बरामद किए गए है।
गिरफ्तार बदमाशों के नाम कैलाश पिता चिंतामण मौरे नि. सोनगीर धुलिया महाराष्ट्र और अजय पिता प्रताप कटवाल निवासी नगांव पारी पुरूषोत्तम कालोनी धुलिया महाराष्ट्र है।थाना अन्नपूर्णा के 201 एवं 202 मंगलमूर्ति अपार्टमेंट 37 सरस्वती नगर में गत 27 नवम्बर को वारदात हुई थी। यहां रहने वाले दिलीप गुप्ता पिता कैलाशचंद गुप्ता एवं स्मिता पति योगेश क्षीर सागर के यहां दिनदहाड़े चोरी हुई।
इसमे गुप्ता के फ्लेट से सोने का कमर बंद 1 , 6 सोने की चूड़ी , सोने के 2 ब्रेसलेट , एक सोने का रानी हार , 3 सोने की चैन , कान के 6 जोड़ , सोने का मंगल सूत्र 3 , सोने की 3 चैन , मंगल सूत्र के सोने के पेंडल 4, सोने की अंगुठी जेंस 2 , सोने की लेडिस की 10 अंगुठी, सोने का टीका 1 , 1 सिक्का सोने का 10 ग्राम का , सोने का पेण्डल सेट -1 , चांदी के सिक्के करीब 30 , तथा अन्य चांदी का सामान , करीब 10 हजार रूपये नगद ले गए थे।
इसी तरह स्मिता क्षीर सागर के घर में से सोने का मंगल सूत्र 1 , सोने की चैन -2 , सोने की 4 चुड़ियां , सोने का 1 हार साथ में कान के टाप्स , 5 – 5 ग्राम के दो सोने के सिक्के , 54 ग्राम सोने के टुकड़े ,1 अंगुठी सोने की , नगदी करीब 30000 रूपये तथा 11 एफडी आदि ले गए थर।
बदमाश कार से जाते दिखे थे
फरियादिया स्मिता द्वारा बताया गया था कि जब वह बाहर से घर आई तब अपार्टमेंट की सीढी पर 3 लोग उतर रहे थे जो एक सफेद रंग की स्विफ्ट कार से जाते दिखे थे।
उक्त घटना को गंभीरता से लेकर वरिष्ठ पुलिस अधीक्षक रूची वर्धन मिश्र द्वारा दिये निर्देशानुसार, पुलिस अधीक्षक पश्चिम अवधैश गोस्वामी, अति. पुलिस अधीक्षक पश्चिम जोन-2 मनीष खत्री एवं सीएसपी अन्नपूर्णा पुनीत गेहलोद के दिशा निर्देश में थाना प्रभारी अन्नपूर्णा सतीश द्विवेदी द्वारा पृथक पृथक दो टीमें तैयार की गई।
लौटते में हुई मुठभेड़
पुलिस को प्राप्त सूचना के आधार पर टीमों को महाराष्ट्र रवाना किया गया । थाने से रवाना शुदा टीम ने अपनी सूझ बूझ से उक्त वाहन के वाहन स्वामी की जानकारी हासिल की ।
महाराष्ट्र की स्थानीय पुलिस के सहयोग से अन्नपूर्णा पुलिस ने वाहन स्वामी के बारे में जानकारी निकाली तो पता चला कि वाहन स्वामी कैलाश मोरे चोरों के एक गिरोह का सरगना है और इस गिरोह के विरूद्ध महाराष्ट्र में दर्जनों अपराध पंजीबध्द है । कैलाश मोरे द्वारा गिरोह चलाया जाता है जो लूट, नकबजनी जैसी गंभीर घटना को अंजाम देते है। इंदौर पुलिस महाराष्ट्र के अलग अलग स्थानों पर लगातार 03 -04 दिन तक गिरोह के बारें में जानकारी एकत्रित करने में लगी रही।
उक्त दोनो टीम जब महाराष्ट्र से इंदौर लौट रही थी तो मानपुर के पास ही थी तभी मुखबिर द्वारा सूचना प्राप्त हुई की उक्त गिरोह के दो व्यक्ति लूट की घटना को अंजाम देने की नियत से रेकी कर रहे है। आज सुबह 06.30 बजे कैलाश अपने साथी अजय के साथ मानपुर तथा पीथमपुर के बीच में मारूति स्विफ्ट सफेद रंग की MH02BT0582 से आने की खबर आई। दोनों टीमो ने आरोपियों को पकड़ने के लिए घेराबंदी लगाईं।
पुलिस पर गोली चलाई
जब सामने की तरफ से आरोपियो की मारूति स्विफ्ट आते हुए दिखी तो पुलिस पार्टी द्वारा रोकने का प्रयास किया गया। इस परआरोपियो द्वारा पुलिस टीम के उपर गाड़ी चड़ाने का प्रयास किया गया। आरोपियों की कार ने पुलिस वाहन को टक्कर भी मारी और आरोपी के वाहन चालक द्वारा पुलिस पर जान से मारने की नियत से पिस्टल से फायर किया ।
तब पुलिस पार्टी ने बचाव में शासकीय पिस्टल से एक फायर किया। दोनो आरोपी मौके से भागने का प्रयास करने लगे तब पुलिस टीम द्वारा दौड़ कर उक्त दोनो को पकड़ लिया पकड़े गये। आरोपियो को पकड़ने एवं गुत्थमगुत्था होने में एक आरोपी कैलाश पिता चिंतामण मौरे और पुलिस टीम घायल हुई है। पकड़े गये आरोपी कैलाश को चोट होने से एमवायएच में इलाजरत है एवं आरोपी अजय को न्यायालय में पेश किया जावेगा।
ये माल बरामद
उक्त दोनों आरोपियो से चोरी गया मशरूका 1 सोने की चेन, एक सोने का मंगल सूत्र , दो सोने की अंगूठी, एक पैर की पायजेब, एक चांदी का ब्रेसलेट, 05 नग चांदी की बिछुड़ी एवं 1,40,000/-रूपये नगद व घटना में प्रयुक्त पिस्टल तथा कार जप्त की गई है ।
उक्त कार्यवाही में थाना अन्नपूर्णा निरी. सतीश द्विवेदी , उप निरी तोसिफ अली , उप निरी. अंकित शर्मा, उप निरी. विशाल नागवे, प्रआर मंगलेश्वर, आर. जोगेश लश्करी , आर मनीष , आर दिपेन्द्र , आर नरेन्द्र, आर. धर्मेन्द्र की भूमिका रही. गिरोह के अन्य सदस्यों के बारे में और चोरी गये माल के बारे में पूछताछ की जा रही है।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here