Home धर्म आध्यात्म श्रीराम भक्त हनुमानजी की भक्ति से दूर होगी दरिद्रता

श्रीराम भक्त हनुमानजी की भक्ति से दूर होगी दरिद्रता

170
0
SHARE

श्रीरामचरित मानस के अनुसार हनुमानजी को माता ने अमरता का वरदान दिया है. कलियुग में हनुमानजी बहुत जल्दी प्रसन्न होने वाले देवता माने गए हैं. भक्त की छोटी सी पूजा से भी ये प्रसन्न हो जाते हैं और सभी परेशानियों को दूर कर देते हैं. श्री हनुमानजी की आराधना या भक्ति करते समय यदि उनके पहले श्रीराम का स्मरण किया जाए, तो हनुमानजी जल्द प्रसन्न होते है. ‘ॐ श्रीराम दूताय नम:’ यह एक ऐसा मंत्र है, जिसे जपने से हनुमानजी जल्द प्रसन्न होते है. इस मंत्र का अर्थ है कि भगवान श्रीराम के दूत, आपको नमन है. भले ही यह मंत्र हनुमान जी का हो, लेकिन इसमें भगवान श्रीराम का नाम प्रथम आता है. अत: हनुमान जी यह विचार करते हैं कि, इस भक्त ने मुझसे पहले मेरे प्रभु श्रीराम का नाम लिया है. अत: वे यह मंत्र सुन कर अति प्रसन्न होते है.
ज्योतिष की मान्यता है कि जिन लोगों की कुंडली में शनि के दोष हैं, उन्हें हर मंगलवार और शनिवार को हनुमानजी की पूजा जरूर करनी चाहिए. यहां जानिए हनुमानजी के कुछ खास उपाय, जिनसे गरीबी से मुक्ति मिल सकती है.

पहला उपाय : दुर्भाग्य से मुक्ति के लिए सप्ताह में एक बार या फिर मंगलवार या शनिवार को हनुमानजी को लाल, फूलों के साथ जनेऊ और सुपारी भी चढ़ाएं.
दूसरा उपाय : एक नारियल पर सिंदूर लगाएं और मौली यानी लाल धागा लपेटें. इसके बाद ये नारियल हनुमानजी को चढ़ाएं. यह उपाय भी आप सातों दिन में से किसी एक दिन कर सकते है, लेकिन यदि यह उपाय मंगलवार या शनिवार को किया जाए, तो यह उपाय दोगुना बलशाली हो जाता है.
तीसरा उपाय : पीपल के 11 पत्तों पर चंदन या कुमकुम से श्रीराम का नाम लिखें. इसके बाद इन पत्तों की माला बनाकर हनुमानजी को चढ़ाएं.
चौथा उपाय : एक नारियल लेकर मंदिर जाएं और हनुमानजी की मूर्ति के सामने नारियल को अपने सिर पर सात बार वार लें. इसके बाद नारियल फोड़ दें और दुखों को दूर करने की प्रार्थना करें.
पांचवां उपाय : हनुमानजी की प्रतिमा पर तिल के तेल में सिंदूर मिलाकर चोला चढ़ाएं. चोला चढ़ाते समय इस मंत्र का स्मरण करें-
सिन्दूरं शोभनं रक्तं सौभाग्यसुखवर्द्धनम.
शुभदं चैव माङ्गल्यं सिन्दूरं प्रतिगृह्यताम.
छठा उपाय : हनुमानजी को लाल या पीले फूल जैसे कमल, गुलाब, गेंदा या सूर्यमुखी फूल नियमित रूप से चढ़ाने पर सभी सुख प्राप्त होते हैं.
सातवां उपाय : हनुमानजी को आंकड़े के फूल चढ़ाने से भी कार्यों में आ रही बाधाएं दूर होती हैं और काम समय पर पूरा होता है.
आठवां उपाय : हनुमानजी के सामने ॐ रामाय नमः, श्रीराम, सीताराम या ॐ श्री रामदूताय नमः मंत्र का जाप 108 बार करना चाहिए. श्रीराम नाम के जाप से हनुमानजी बहुत प्रसन्न होते हैं. भक्त की सभी इच्छाएं पूरी करते हैं.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here