Home पुणे पौने चार करोड़ के सोने सहित चार गिरफ्तार

पौने चार करोड़ के सोने सहित चार गिरफ्तार

112
0
SHARE
पुणे (तेज समाचार डेस्क). सराफा दुकानदार का व्हाट्सएप स्टेटस देखकर उसे लूटने वाले गिरोह पर पुणे जिला (ग्रामीण) पुलिस की एलसीबी (लोकल क्राइम ब्रांच) की टीम ने बड़ी सूझबूझ के साथ इस वारदात को सुलझाते हुए चार लुटेरों पर शिकंजा कसा। साथ ही उनसे नौ किलो 600 ग्राम कुल तीन करोड़ 70 लाख 71 हजार रुपये का सोना भी बरामद किया गया। नियोजनबद्ध तरीके से की गई इस वारदात को सुलझाना पुलिस के लिए किसी चुनौती से कम न था। मगर एलसीबी ने उसे स्वीकार कर वारदात को सुलझा लिया। इसके लिए पूरी टीम के लिए 35 हजार रुपए के इनाम की घोषणा जिला पुलिस अधीक्षक सन्दीप पाटिल ने रविवार को एक संवाददाता सम्मेलन में की।
– लूट में इस्तेमाल कार सहित सोना जब्त
गिरफ्तार आरोपियों के नाम गणेश दगडू पवार (27), अभिजित उर्फ बालू दिलीप चव्हाण (23, दोनों निवासी महुत, नागणखोरा, ता. सांगोला, जि. सोलापुर), मोहसीन हमजेखान मुलानी (25), प्रथमेश विजय भांबुरे (26, दोनों निवासी दिघंची, कटफल  गल्ली, ता. आटपाडी, जि. सांगली) हैं। उनके खिलाफ आप्पा श्रीराम कदम (निवासी कौठली, आटपाडी, जि. सांगली) ने दौंड पुलिस थाने में शिकायत दर्ज कराई है। इस कार्रवाई में आरोपियों के पास से एक कार (एम एच 14 / डी ए 6444) और उसमें से 9 किलो 500 ग्राम सोने के बिस्कुट, सोने की तीन बड़ी पट्टियां, चार मोबाइल फोन, एक एयरगन आदि कुल तीन करोड़ 70 लाख 71 हजार रुपये का माल बरामद किया गया है।
– स्टेशन के बाहर से ही कर लिया था अपहरण
पुलिस अधीक्षक संदीप पाटिल ने बताया कि, शिकायतकर्ता अप्पा ने कुछ दिन पहले अपने व्हाट्सएप स्टेटस पर गुड़ बाय कौठली ऐसा मैसेज रखा था। उनका स्टेटस देखकर आरोपियों ने उन्हें लूटने का प्लान बनाया। 6 नवंबर के तड़के पौने छह बजे के करीब अप्पा अपने एक साथी के साथ कोलकाता- मुंबई ट्रेन से दौंड स्टेशन पर उतरे। स्टेशन से बाहर आने पर आरोपियों ने उन्हें रोका और दोनों को कार में बिठाकर कुरकुंभ, भिगवण मार्ग से बांगरवाड़ी गांव में ले गए। कार में अप्पा के साथ मारपीट करते हुए चाकू दिखाकर उनका वैलेट, सोने के बिस्कुट और नकदी आदि छीन ली। उनका मोबाइल फोन निकाल कर फेंक दिया और उन्हें रास्ते में उतारकर कार से फरार हो गए।
– दौंड पुलिस व एलसीबी ने मिल कर की जांच
इस बारे में दौंड पुलिस ने मामला दर्ज करने के बाद दौंड पुलिस और एलसीबी दोनों समांतर जांच में जुटे रहे। सीसीटीवी फुटेज के आधार पर आरोपियों की शिनाख्त कर उनपर शिकंजा कसा गया। इस पूरी कार्रवाई को पुणे जिला (ग्रामीण) पुलिस की एलसीबी के पुलिस निरीक्षक पद्माकर घनवट, सहायक पुलिस निरीक्षक दत्तात्रय गुंड, सहायक फौजदार दयानंद लिमण, पुलिस कर्मचारी महेश गायकवाड, निलेश कदम, सचिन गायकवाड, मोरेश्वर इनामदार, राजू पुणेकर, मुकुंद अयाचित, गुरु गायकवाड, सुभाष राऊत, प्रवीण मोरे, नितीन भोर, अक्षय जावले की टीम ने अंजाम दिया।