Home पुणे नहीं रहा सात नक्सलियों को मौत के घाट उतारनेवाला जांबाज़

नहीं रहा सात नक्सलियों को मौत के घाट उतारनेवाला जांबाज़

107
0
SHARE
पुणे (तेज समाचार डेस्क). गढ़चिरौली में सात नक्सलियों के एनकाउंटर में अहम भूमिका निभानेवाले पिंपरी चिंचवड निवासी जांबाज एपीआई (सहायक पुलिस निरीक्षक) योगेश गुजर का हार्ट अटैक से देहांत हो गया. चिंचवड स्थित दलवीनगर के निवासी थे. 2014 में वे महाराष्ट्र पुलिस बल में पीएसआई के तौर पर नियुक्त हुए थे. उनके पीछे पत्नी, पिता और मां का परिवार रह गया है. एक कर्तव्यनिष्ठ अधिकारी की इस तरह से मौत होने से पुलिस बल में शोक व्याप्त है.
निगड़ी स्थित यमुनानगर म्युनिसिपल स्कूल के स्टडी रूम में योगेश गुजर ने स्पर्धा परीक्षा की पढ़ाई की थी. पुलिस बल में नियुक्त होने के बाद उनकी पहली पोस्टिंग नक्सल प्रभावित गढ़चिरौली में हुई थी. उन्होंने गढ़चिरौली क्षेत्र में अच्छा प्रदर्शन किया है. विभिन्न गतिविधियों में सात नक्सलियों का सफलतापूर्वक एनकाउंटर किया था. इस कार्रवाई के लिए डीजीपी दत्ता पडालगीकर ने दो महीने पहले गुजर को सहायक पुलिस निरीक्षक (एपीआई) के रूप में पदोन्नत किया था.
योगेश गुजर को एक कर्तव्यनिष्ठ अधिकारी के रूप में पहचाना गया. उनकी शादी दो साल पहले थेरगांव में हुई थी. शुक्रवार को गढ़चिरौली में हार्ट अटैक के चलते उनका निधन हो गया. पिंपरी- चिंचवड लिंक रोड के चिंचवड़ में श्मशान भूमि में आज (शनिवार) को उनका अंतिम संस्कार किया गया. चिंचवड पुलिस स्टेशन के वरिष्ठ पुलिस निरीक्षक भीमराव शिंगडे, पुलिस उप-निरीक्षक मोहन जाधव, गढ़चिरौली के पुलिस अधिकारी, निगड़ी में मनपा स्टडी रूम के छात्र बड़ी संख्या में अंतिम संस्कार में उपस्थित थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here