Home महाराष्ट्र कन्या भोज के साथ हुआ चंद्रिकन देवी महोत्सव का समापन

कन्या भोज के साथ हुआ चंद्रिकन देवी महोत्सव का समापन

217
0
SHARE
भीड़ को नियंत्रित करने पुलिस जवानों को छूटे पसीने
मुंबई (तेज समाचार डेस्क). सिद्धपीठ मां चंद्रिकन देवी धाम में आयोजित दो दिवसीय महोत्सव में कलाकारों ने रंगारंग कार्यक्रम पेश कर श्रोताओं का खूब मनोरंजन किया. महोत्सव की शुरुवात क्षेत्रीय कलाकारों की मां सरस्वती की वंदना से हुई. इसके बाद कानपुर, लखनऊ एवं अन्य शहरों से आए मजे हुए कलाकारों ने एक के बाद एक प्रस्तुति से श्रोताओं को मंत्रमुग्ध कर दिया. कानपुर से आए भोजपुरी गायक रवि कुमार ने दर्द भरा गीत सुना कर सभी का दिल जीत लिया.
– नीलम सिंह ने गाए देवी के गीत
टीवी कलाकार नीलम सिंह ने देवी गीत प्रस्तुत कर खूब तालियां बटोरी. आल्हा सम्राट फौजदार सिंह ने महाराणा प्रताप की वीर गाथा का वर्णन कर उपस्थितों में जोश भर दिया. ज्योतिषाचार्य पंडित राम प्रसाद मिश्र ने महोत्सव के बारे में जानकारी देते हुए बताया कि इस धाम में वर्ष भर धार्मिक कार्यक्रमों का आयोजन होता रहता है लेकिन चंद्रिकन महोत्सव का अलग ही महत्व है. नौ दिनों तक माता दुर्गा की पूजा अर्चना एवं कन्या भोजन के बाद दो  दिवसीय महोत्सव का आयोजन होता है, जिसमें दूर-दराज के कलाकार उपस्थित होकर लोगों का मनोरंजन कराते हैं. कानपुर की फेमस रंपत हरामी की नौटंकी को देखने के लिए शाम से ही दर्शकों का हुजूम उमड़ पड़ा, जिसे नियंत्रित करने के लिए पुलिस जवानों को कड़ी मशक्कत करनी पड़ी. कानपुर से आए जादूगरों की हैरतअंगेज जादू देख लोग दंग रह गए.

राजेन्द्र बौवाली का बिरहा
इसी समय राजेन्द्र बौवाली का विरहा का आयोजन हुआ, जिसे सुन कर लोग झूमने पर मजबूर हो गए. मेला कमेटी के अध्यक्ष हरिमंगल सिहं ने कलाकारों को अंगवस्त्र और प्रमाण पत्र देकर सम्मानित किया. इस मौके पर एडवोकेट दीपक मिश्र, महेश मिश्र, हरिशंकर मिश्र, राजीव सिंह, गोविंद सिंह, राम सिंह, राम अकबाल सिंह, कमलेश मिश्र सहित भारी संख्या में लोग मौजूद थे.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here