Home देश हरिद्वार में संदिग्धावस्था में मिला वरिष्ठ पत्रकार अनुज गुप्ता का शव

हरिद्वार में संदिग्धावस्था में मिला वरिष्ठ पत्रकार अनुज गुप्ता का शव

308
0
SHARE
हरिद्वार में संदिग्धावस्था में मिला वरिष्ठ पत्रकार अनुज गुप्ता का शव
हरिद्वार (तेज समाचार डेस्क). कई प्रतिष्ठित अखबारों में राजनीतिक विश्लेषक के रूप में कॉलम लिखनेवाले वरिष्ठ पत्रकार अनुज गुप्त का शव संदिग्धावस्था में उत्तराखंड के हरिद्वार में मिला है. पुलिस के अनुसार उनके हाथों की नस कटी हुई थी, इससे अनुमान लगाया जा रहा है कि अनुज गुप्त ने आत्महत्या की होगी. बताया जाता है कि अनुज शनिवार से ही दिल्ली से लापता हो गए थे. हरिद्वार के ज्वालापुर थाने के इंचार्ज योगेश देव के मुताबिक गुप्ता का शव गंगनहर कैनाल पर स्थित पथरी पावरहाउस से मिला है.
– हाथ की नसें कटी हुई थी
हरिद्वार पुलिस के मुताबिक गुप्ता के एक हाथ की कलाई की दो नसें कटी हुई पायी गई हैं. अनुज गुप्ता दिल्ली के द्वारका स्थित सत्यम अपार्टमेंट में रहते थे. पुलिस ने पोस्टमॉर्टम के बाद उनकी डेड बॉडी उनके परिवार वालों के हवाले कर दी है. आरंभिक जांच में पता चला है कि उन्होंने शनिवार शाम को वहां के एक होटल में चेक-इन किया था. होटल के कमरे में कुछ वक्त बिताने के बाद वे बाहर गए थे और रात में देर से लौटे भी थे. हालांकि रविवार को सुबह 11 बजे तक जब उन्होंने होटल रूम का दरवाजा नहीं खोला, तो होटल वालों को संदेह हुआ और उन्होंने दरवाजे पर दस्तक देनी शुरू कर दी.
– दिल्ली के द्वारका थाने में दर्ज थी गुमशुदगी की रिपोर्ट
बाद में होटल वालों ने होटल के रजिस्टर में उनका मोबाइल नंबर देखकर उनको फोन लगाया, जो उनके बेटे पीयूष ने उठाया. उनके बेटे ने फोन पर कहा कि उनके पिता तो शनिवार से ही गायब हैं. उसने होटल वालों से कहा कि उनकी गुमशुदगी की रिपोर्ट द्वारका थाने में भी दर्ज कराई हुई है. तब होटल वालों ने हरिद्वार पुलिस को सूचना दी और गुप्ता के रूम का दरवाजा खोला, लेकिन वह कमरे में मौजूद नहीं थे. हालांकि, उनके कमरे के फर्श पर खून फैला हुआ था.
– रात को 11 बजे होटल से निकले थे
जब होटल की सीसीटीवी की जांच की गई तो पता चला कि अनुज गुप्ता उसी रात 11 बजे होटल से बाहर निकल गए थे. इसके बाद उनकी तलाशी शुरू की गई और आखिरकार पथरी पावरहाउस से उनकी बॉडी बरामद की गई. हालांकि, ये अभी तक पता नहीं चला है कि कटी हुई कलाई के साथ उन्हें होटल से बाहर जाते हुए किसी ने कैसे नहीं देखा.
– पुलिस को आत्महत्या का अंदेशा
वैसे पुलिस के मुताबिक शुरुआती जांच में यह मामला खुदकुशी का लगता है, क्योंकि उनकी बायीं कलाई की दो नसें कटी हुई हैं और कमरे से एक ब्लेड भी बरामद हुआ है. हालांकि, पुलिस इस केस की हर तरह से जांच में जुटी हुई है.