Home देश आंध्रप्रदेश में भीषण हादसा : गोदावरी में नाव डूबने से 12 की...

आंध्रप्रदेश में भीषण हादसा : गोदावरी में नाव डूबने से 12 की मौत

89
0
SHARE

अमरावती (तेज समाचार डेस्क). रविवार की दोपहर दक्षिण भारत के आंध्र प्रदेश के पूर्वी गोदावरी जिले में पर्यटकों से भरी नाम गोदावरी नदी में डूब गई. इस नाव में 9 क्रू मेंबर और 51 पर्यटक सवार थे. हादसे में 12 लोगों की मौत हो गई, 17 को बचाया गया, जबकि 31 लापता हैं. बारिश के कारण गोदावरी नदी में बहाव तेज है और इससे भी बचाव कार्यों में दिक्कतें आईं. पुलिस के मुताबिक, नाव एक निजी ऑपरेटर की थी और हादसा उस वक्त हुआ, जब नाव नदी में एक चट्टान से टकरा गई.

– पापीकोंडालु जा रही थी नाव
पुलिस अधीक्षक अदनान नईम असमी ने बताया कि नाव प्रमुख पर्यटन स्थल पापीकोंडालु से रवाना हुई थी और कच्छलुरू के पास डूब गई. मुख्यमंत्री जगन मोहन रेड्डी ने हादसे में मारे गए लोगों के परिजन के लिए 10-10 लाख रु. मुआवजे का ऐलान किया है.

– नदी में बंद है नौका संचालन
पुलिस के मुताबिक, बचाव कार्य में एनडीआरएफ, एसडीआरएफ के 140 सदस्यों के अलावा हेलिकॉप्टर भी लगाए गए. मारे गए लोगों में रॉयल वशिष्ठ नाम की इस नाव के दो नाविक भी शामिल हैं. नाव के पास लाइसेंस था, लेकिन बाढ़ जैसी स्थिति में पर्यटकों को ले जाने के लिए आवश्यक अनुमति ली गई थी या नहीं, यह साफ नहीं है. पुलिस ने बताया कि गोदावरी में सभी तरह का नौका संचालन बाढ़ के हालात के चलते बंद था.

– प्रधानमंत्री ने जताया खेद
प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने इस घटना पर दुख जताया. उन्होंने ट्वीट किया, “आंध्र प्रदेश के पूर्वी गोदावरी में नाव डूबने की घटना से बहुत दुखी हूं. मेरी संवेदना पीड़ित परिवारों के साथ है. घटनास्थल पर बचाव अभियान अभी भी चल रहा है.”

– गृहमंत्री ने भी किया ट्वीट
गृह मंत्री अमित शाह ने ट्वीट किया, “आंध्र प्रदेश के पूर्वी गोदावरी जिले में नाव दुर्घटना से हुई क्षति काफी दुर्भाग्यपूर्ण है. मैं इससे काफी दुखी हूं. इस हादसे में जिन्होंने भी अपने प्रियजनों को खोया है, मेरी संवेदना उनके साथ है. ईश्वर इस क्षति से उबरने में उनकी सहायता करे.”

– राहुल गांधी ने भी जताई दु:ख
राहुल गांधी ने अपने ट्वीट में कहा “आंध्र प्रदेश में गोदावरी नदी में नाव दुर्घटना के बारे में सुनकर दुखी हूं. इस हादसे में मारे गए लोगों के परिजनों के प्रति गहरी संवेदना व्यक्त करता हूं. मैं प्रार्थना करता हूं कि लापता हुए लोग सुरक्षित बाहर आ जाएं.”