Home देश 55 साल पर भारी मेरे 55 महीने-प्रधानमंत्री मोदी

55 साल पर भारी मेरे 55 महीने-प्रधानमंत्री मोदी

100
0
SHARE
मोदी

55 साल पर भारी मेरे 55 महीने-प्रधानमंत्री मोदी

नई दिल्ली (तेज़ समाचार डेस्क):संसद के बजट सत्र का आज छठा दिन है। लोकसभा में आज राष्ट्रपति के अभिभाषण पर लाए गए धन्यवाद प्रस्ताव पर आगे की चर्चा चल रही है। प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी आज राष्ट्रपति के अभिभाषण का दिया जवाब।

जवाब देते हुए प्रधानमंत्री मोदी ने कहा है कि राष्ट्रपति ने सरकार के विजन रखा है। सरकार की पहचान भ्रष्टाचार की कार्रवाई के रूप में जाना जाएगा। मोदी ने कहा कि चर्चा के दौरान कहा गया कि कांग्रेस से पहले देश में कुछ था ही नहीं और जो देश में हुआ वह एक वंश के कारण ही हुआ है। भारत साढ़े चार साल में 11 नंबर से छठे नंबर की अर्थव्यवस्था बन चुका है। जिन्हें तब 11 पर पहुंचने का गौरव था उन्हें आज छठे नंबर पर आने का दर्द हो रहा है।

मोदी ने कहा कि भारत दुनिया का सबसे स्टील उत्पादक भारत बन चुका, दूसरे सबसे ज्यादा मोबाइल भारत में बनते हैं, इंटरनेट डाटा सबसे सस्ता और सबसे ज्यादा भारत में उपभोग किया जाता है। आज विमानन क्षेत्र सबसे तेजी से आगे बढ़ रहा है। हमारी नीतिओं की आलोचना करनी चाहिए, यह लोकतंत्र के लिए अच्छा है। लेकिन भाजपा, मोदी की आलोचना करते हुए देश की बुराई भी कर रहे हैं। लंदन में झूठी प्रेस कॉन्फ्रेंस कर रहे हैं। कांग्रेस की हूटिंग पर मोदी ने कहा कि मैं अपनी मर्यादा में रहूं, वहीं अच्छा है।कांग्रेस पर हमला करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि चुनाव आयोग को अपमानित करने का काम किया गया। महाभियोग के नाम पर डराने का काम कांग्रेस ने किया। कांग्रेस ने चुनी हुई सरकारों को बर्खास्त करने का काम किया, कांग्रेस को संस्थाओं के मान-सम्मान की बात नहीं करनी चाहिए। उन्होंने कहा कि कैबिनेट का फैसला तक प्रेस कॉन्फ्रेंस में जाकर फाड़ा गया। कृपा करके मोदी पर उंगुली उठाने से पहले जरा सोच लें। खडग़ेजी मुसीबत में फंसे हैं और हर बात का विरोध कर रहे हैं।

प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि कांग्रेस सत्ता पर अपना हक मानती है। 55 साल पर मेरे 55 महीनों भारी हैं। साढ़े चार साल में 10 करोड़ से ज्यादा शौचालय बने हैं, देश के 10 करोड़ अमीरों के लिए मैंने शौचालय बनाए हैं, क्योंकि ये लोग कहते हैं कि मेरी सरकार अमीरों के लिए है। पीएम मोदी ने कहा कि 55 महीने में हमने 13 करोड़ गैस कनेक्शन देने का काम किया है। 18 हजार गांवों में बिजली पहुंचने से आपको दिक्कत होती है, अब 100 करोड़ लोगों के पास बैंक खाते हैं. जो काम 20 साल में होना चाहिए था वो मुझे आकर पूरा करना पड़ा।

प्रधानमंत्री ने कहा कि आज बिचौलिये नहीं हैं और पैसे सीधे गरीब के खाते में जा रहे हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस के 55 साल सत्ता भोग के थे और हमारे 55 महीने सेवा भाव के हैं। मोदी ने कहा कि हम सही निष्ठा और नीति से 24 घंटे गरीबों के लिए काम कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि कांग्रेस का इतिहास घोटालों का रहा है। जब खिलाड़ी कॉमनवेल्थ में पदक के लिए मेहनत कर रहे थे तब इन्हें अपने वेल्थ की चिंता थी। टू जी घोटाले में क्या हुआ, यह सारा देश जानता है। उन्होंने कहा कि आजादी के बाद पहले नामदार के एक फोन पर लोन दिया जाता था, कोई पूंछने वाला नहीं था, छह साल में बैंकों का लोन 18 लाख करोड़ से 52 लाख करोड़ का हो गया।

मोदी ने कहा कि अब लूटने वालों के खिलाफ कानून आ गया है और लूटा हुआ धन में वापस लाने का काम चल रहा है। उन्होंने कहा कि जो देश छोडक़र, देश का पैसा लूटकर भाग गए, वो अब ट्विटर पर रो रहे हैं। प्रधानमंत्री ने कहा कि सेना के लिए कांग्रेस की सरकार में बुलेट प्रूफ जैकेट तक नहीं थी और सर्जिकल स्ट्राइक करे जाने का दावे कर रहे हैं। उन्होंने कहा कि जवानों के पास बुनियादी सुविधाओं तक का आभाव था, उनके पास जूते तक नहीं थे और आप सर्जिकल स्ट्राइक की बात करते हैं। सेना को ताकतवर करने के बारे में कांग्रेस ने कभी नहीं सोचा. कांग्रेस ने सेनाओं की जरूरतों को नजरअंदाज करने का काम किया, देश इसको माफ नहीं करेगा।

कांग्रेस मुक्त भारत गांधीजी का सपना

पीएम मोदी ने कहा कि कुछ दल अपने को सबसे ऊपर मानते हैं और इसी की वजह से सभी संस्थाओं का अपमान करते हैं. उन्होंने कहा कि कुछ लोग सीबीआई, कोर्ट, सेना प्रमुख सभी का अपमान कर रही हैं. मोदी ने कहा कि मैं तो गांधीजी का सपना पूरा कर रहा हूं, कांग्रेस मुक्त भारत हमारा सपना नहीं है, उन्होंने ही कांग्रेस मुक्त भारत की बात कही थी. पीएम मोदी ने कहा कि सदन में महंगाई को लेकर सच्चाई से परे बातें हुईं. उन्होंने कहा कि महंगाई पर जो गाने प्रसिद्ध हुए तब दोनों ही बार कांग्रेस की सरकार थी, एक बार इंदिरा सरकार और दूसरा बार रिमोट कंट्रोल वाली सरकार थी. जब-जब कांग्रेस सत्ता में आई है तब-तब महंगाई बढ़ी है.

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here