Home खेल वनडे में भी ओपनर की भूमिका निभा सकते हैं पृथ्वी शॉ

वनडे में भी ओपनर की भूमिका निभा सकते हैं पृथ्वी शॉ

154
0
SHARE

नई दिल्ली (तेज समाचार डेस्क). टीम इंडिया भले ही इस समय देश और विदेशों में अच्छा प्रदर्शन कर नंबर की टीम बन गई हो, लेकिन टीम इंडिया सदैव से ही ऑपनिंग जोड़ी को लेकर परेशान रही है. सचिन तेंदुलकर- वीरेन्द्र सहवाग की जोड़ी को छोड़ दिया जाए, तो आपनिंग की समस्या टीम इंडिया के सामने सदैव ही एक बड़ी समस्या रही है. लेकिन अब शायद जल्द ही यह समस्या खत्म होती नजर आ रही है. जी हां, टीम इंडिया को एक धमाकेदार ओपनिंग देनेवाला बल्लेबाज मिल गया है. यह बल्लेबाज है पृथ्वी शॉ. 12 दिन पहले वेस्टइंडीज के खिलाफ टेस्ट डेब्यू करने वाले पृथ्वी शॉ को वनडे में भी ओपनर के तौर पर मौका दिया जा सकता है. वनडे में पृथ्वी की पोजिशन को लेकर कप्तान विराट कोहली, रोहित शर्मा, कोच रवि शास्त्री के साथ टीम मैनेजमेंट ने बैठक की. दरअसल, आगामी वर्ल्डकप की तैयारियों को ध्यान में रखते हुए टीम प्रबंधन शॉ को वनडे में ओपनर के तौर पर आजमाना चाहता है.
पृथ्वी को विंडीज के खिलाफ पहले 2 मैचों में टीम में शामिल नहीं किया गया है. हालांकि, रिपोर्ट्स में कहा गया है कि बचे हुए 3 मैचों में उन्हें मौका दिया जा सकता है. दरअसल, अभी रोहित और शिखर धवन के अलावा तीसरे ओपनर के तौर पर केएल राहुल टीम के साथ जुड़े हुए हैं, लेकिन उनका प्रदर्शन खास नहीं रहा. राहुल ने पिछले पांच वनडे में सिर्फ एक अर्धशतक लगाया है.
– शिखर-रोहित की कामयाब जोड़ी
वनडे में शिखर-रोहित की जोड़ी कामयाब रही है. दोनों ओपनरों ने अब तक 83 मैचों में 3381 रन बनाए हैं. 13 बार शतकीय साझेदारी की है. प्रबंधन चाहता है कि ये जोड़ी वर्ल्डकप तक तरोताजा रहे. ऐसे में विश्वकप से पहले पृथ्वी को तीसरे ओपनर के तौर पर टीम में शामिल किया जा सकता है. इस मुद्दे पर पिछले सप्ताह बैठक भी हुई, जिसमें चयनकर्ता, कप्तान विराट कोहली, कोच रवि शास्त्री, वनडे के उपकप्तान रोहित शर्मा और टेस्ट के उपकप्तान अजिंक्य रहाणे शामिल थे.
– वर्ल्ड कप को ध्यान में रख कर तैयारी
बीसीसीआई के एक पदाधिकारी के अनुसार, वर्ल्ड कप के लिए प्रबंधन खिलाड़ियों को रोटेट करने पर ध्यान दे रहा है. इसके जरिए प्रबंधन की कोशिश टीम के स्थायी सदस्यों को आराम देने की है. आप देख सकते हैं कि जसप्रीत बुमराह, भुवनेश्वर कुमार, मोहम्मद शमी टीम से बाहर रहते हैं या लगातार नहीं खेल रहे हैं. ये खिलाड़ी टीम के लिए बेहद जरूरी हैं, इसलिए इन्हें आराम दिया जा रहा है.
– लिस्ट ए में पृथ्वी के नाम तीन शतक
शॉ ने 22 लिस्ट ए मैच में 938 रन बनाए हैं. इस दौरान उनका औसत 43.43 और स्ट्राइक रेट 116.56 का रहा है. उन्होंने तीन शतक और आठ अर्धशतक लगाए. शॉ ने बुधवार को ही विजय हजारे ट्रॉफी के सेमीफाइनल में हैदराबाद के खिलाफ 61 रन की पारी खेली.