Home देश सफाई कर्मचारी की बेटी की शादी के लिये पुलिसकर्मियों ने इक्ट्ठा किये...

सफाई कर्मचारी की बेटी की शादी के लिये पुलिसकर्मियों ने इक्ट्ठा किये रुपये

81
0
SHARE

सफाई कर्मचारी की बेटी की शादी के लिये पुलिसकर्मियों ने इक्ट्ठा किये रुपये

नई दिल्ली (तेज समाचार प्रतिनिधि): राजधानी की दिल्ली पुलिस की इमेज को लेकर लोगों की हमेशा तरह-तरह कि प्रतिक्रियाएं रहती हैं। “हमें लगता हैं कि सभी पुलिस वाले भ्रष्टाचार में लीन हैं और रिश्वत लेकर किसी भी अपराध पर पर्दा डाल देते हैं। वहीं अगर सोचा जाये तो जिस तरह हाथों की पांचो उंगलियां बराबर नहीं होती ठीक उसी तरह सभी पुलिसकर्मी भ्रष्ट नहीं होते हैं। इनमे से कई अपने कर्त्यव्य का बड़ी इमानदारी से पालन करते हैं”। इसी क्रम में हम आज हम आपको कुछ ऐसे ही पुलिसकर्मियों के बारे में बताने जा रहे है, जो न सिर्फ अपने कर्तव्य का पालन ईमानदारी से करते बल्कि अपनी ओर से इंसानियत दिखाते हुए मिसाल भी कयाम करते है।
हर माता पिता का सपना होता हैं कि वो अपनी बेटी की शादी बड़ी धूम धाम से करे। लेकिन कई बार पैसो की कमी के चलते वे अपनी बेटी की शादी नहीं कर पाते हैं। ऐसी ही एक बड़ी समस्यां से जूझ रही पीड़ित महिला की सारी परेशानियां दिल्ली पुलिस ने हर ली। पीड़ित महिला ने भी कभी सपने में नहीं सोचा था कि जिस थाने में वह लंबे समय से साफ-सफाई कर रही है, उस थाने की पुलिस उनकी जिंदगी में फरिश्ता बनकर आयेंगे और उसकी सारी समस्यां का हल कर देंगे।
ऐसे हुआ यह सब 
नई दिल्ली जिले में बाराखंबा थाना है। यहां रानी नाम की महिला थाने में साफ-सफाई का काम करती है। रानी से पहले उसका पति उक्त थाने में साफ-सफाई का काम करता था। रानी के तीन बच्चे है। जिसमें दो बेटी और एक बेटा है। पति की करीब तीन साल पहले मौत हो गई। पति के जाने के बाद रानी ने अपने बच्चों की पूरी जिम्मेवारी अपनी कंधों पर उठा ली। वह पति की जगह थाने में साफ-सफाई करने लगी। समय के बढ़ने के साथ ही बच्चे भी बढ़े होने लगे। पीड़िता को यह भी पता नहीं चला कि उनकी एक बेटी शादी योग्य हो गई है। घर करीब गरीबी व बेटी की शादी को लेकर पीड़िता परेशान रहने लगी। पीड़िता ने सभी जगह मदद की गुहार लगाई। सब जगह से हराने के बाद पीड़ित ने उक्त थाने के एसएचओं प्रह्लाद सिंह से अपनी परेशानी बताई। एसएचओ ने मामले को गंभीरता से लिया और अपने स्टाफ के साथ इस बात पर चर्चा की। चर्चा के बाद पुलिसकर्मियों ने इंसानियत का परिचय देते हुए खुदकी सैलरी से एक लाख रुपये से ज्यादा कैश जमा किया। इसके साथ ही शादी में देने वाले अन्य उपहार इक्ट्ठा कर पीड़ित महिला को सौंप दिया है। रानी अब निश्चिंत है कि 12 फरवरी को उसकी बेटी की डोली धूमधाम से उठ जाएगी।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here