Home तकनीकी आज सबसे बड़ी चुनौती साइबर आतंकवाद : आर.के. सिन्हा

आज सबसे बड़ी चुनौती साइबर आतंकवाद : आर.के. सिन्हा

169
0
SHARE

आज सबसे बड़ी चुनौती साइबर आतंकवाद : आर.के. सिन्हा

बेंगलुरु (तेज समाचार डेस्क): शहर स्थित होटल कोनरॉड में इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ़ सिक्युरिटी एंड सेफ्टी मैनेजमेंट (आईआईएसएसएम) के दो दिवसीय 29वें अंतरराष्ट्रीय सम्मेलन का मुख्य अतिथि मुख्यमंत्री बीएस येदियुरप्पा की अनुपस्थिति में सिटी पुलिस आयुक्त भास्कर राव ने उद्घाटन किया। इस मौके पर आईआईएसएसएम के चेयरमैन एस के शर्मा (सेवानिवृत आईपीएस) ने उद्बोधन भाषण दिया।
आईआईएसएसएम के कार्यकारी अध्यक्ष एवं राज्यसभा सदस्य रवीन्द्र किशोर सिन्हा ने सम्मेलन में आए अतिथियों को सम्बोधित करते हुए कहा कि आज हम बदलाव के दौर में हैं और कई चुनौतियां हैं, जिनसे हमें निपटना है। भविष्य में हमारे सामने सबसे बड़ी चुनौती साइबर आतंकवाद की है जो पैर पसार रहा है। उन्होंने सुरक्षा मुहैया कराने वाली एक बड़ी बहुराष्ट्रीय कम्पनी से सम्बद्ध का उदाहरण रखते हुए कहा कि हाल ही में सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ था, जिसमें इस कम्पनी के तीन-चार सुरक्षाकर्मी आपस में लड़ रहे थे।
कम्पनी का प्रबंधन चालाक था और उसने साइबर पुलिस को इस वीडियो की जांच के लिए कहा लेकिन कोई एक्शन नहीं लिया गया। उत्तर भारत में इससे मिलता-जुलता सोशल मीडिया पर एक वीडियो वायरल हुआ जिसमें तमिल गार्ड्स को पीटा जा रहा है। वायरल वीडियो को लेकर साइबर पुलिस हरकत में आई और कई तमिल भाषी लोगों से इस सम्बन्ध में पूछताछ की लेकिन उन्होंने कहा कि ऐसा कुछ भी नहीं हुआ है, दरअसल यह वीडियो फेक था।
इस मौके पर सिटी पुलिस आयुक्त भास्कर राव ने कहा कि आज निजी सुरक्षा का दायरा तेजी से बढ़ रहा है। उन्होंने इंटरनेशनल इंस्टीट्यूट ऑफ़ सिक्युरिटी एंड सेफ्टी मैनेजमेंट (आईआईएसएसएम) के सम्बन्ध में कहा कि 29 वर्षों का समय कम नहीं होता है और यह संस्थान इतने समय से सुरक्षा पेशेवरों को प्रशिक्षण प्रदान कर रहा है। पूरे देश में आज निजी सुरक्षा कंपनियां बढ़ रही है और कर्नाटक में सात लाख निजी सुरक्षाकर्मी हैं।
उन्होंने कहा कि दो दिनों के इस कार्यक्रम में अलग-अलग सेशन में व्यापारिक क्षेत्र में सुरक्षा, बचाव और हानि निवारण से संबंधित ज्वलंत मुद्दों पर प्रमुख संस्थानों के उद्योग विशेषज्ञ, वैज्ञानिक और प्रोफेसर विस्तार से अपने विचार रखेंगे। इस मौके पर आईआईएसएसएम के कार्यकारी अध्यक्ष रवीन्द्र किशोर सिन्हा के साथ महानिदेशक राजन मेढ़कर, कर्नाटक सिक्युरिटी सर्विसेज एसोसिएशन (केएसएसए) के अध्यक्ष एमसी प्रकाश, आईआईएसएसएम के चेयरमैन एस के शर्मा (सेवानिवृत आईपीएस) और आईआईएसएसएम, बेंगलुरु चैप्टर के चेयरमैन बीएम शशिधर समेत कई अतिथि भी उपस्थित थे।