Home पुणे तृप्ति देसाई मुख्यमंत्री को पहनाना चाहती थी शराब की बोतलों की माला

तृप्ति देसाई मुख्यमंत्री को पहनाना चाहती थी शराब की बोतलों की माला

100
0
SHARE
फाइल फोटो

पुणे (तेज समाचार डेस्क). पिछले लंबे समय से आउट ऑफ फ्रेम चल रही  सामाजिक कार्यकर्ता तृप्ति देसाई को पुलिस ने हिरासत में ले लिया. शराबबंदी की मांग को लेकर देसाई शराब की बोतलों से बनाया गया हार मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस पहनाना चाहती थीं. उनकी मांग है कि पूरे महाराष्ट्र शराबबंदी की जाए. देसाई शराब की बोतलों का हार लेकर जा रही थीं कि पुणे के हडपसर इलाके में जाने के पहले ही पुलिस ने उन्हें हिरासत में ले लिया.

यह भी पढ़े : फ्लैक्सबाजी करने से किसी को टिकट नहीं मिलेगा

– तीन बार दिया था निवेदन
देसाई ने बताया कि भूमाता रणरागिनी ब्रिगेड संगठन की ओर से उन्होंने मुख्यमंत्री से तीन बार मिलकर राज्य में सभी तरह की शराब- निर्मिति, स्टोरेज, बिक्री और सेवन पर पाबंदी लगाने का निवेदन किया लेकिन आश्वासन के अलावा कुछ नहीं मिला. इसी लिए देसी शराब की बोतलों से बनाया हार मुख्यमंत्री को देकर देसाई अपना विरोध प्रकट करना चाहती थीं. उनकी मांग है कि बिहार और गुजरात की तर्ज पर महाराष्ट्र में भी शराब पर पाबंदी लगाई जाए.

यह भी पढ़े : कांग्रेस-राष्ट्रवादी में 125-125 का फार्मूला, मित्र दलों के लिए 38 सीटें

– शराब से बर्बाद होते हैं परिवार 
उन्होंने कहा कि राज्य के हजारों परिवार शराब की लत से बर्बाद हो गए हैं. तृप्ति देसाई अपने कई सामाजिक कार्यों के लिए जानी जाती हैं. महिलाओं के अधिकारों के लिए उन्होंने कई आंदोलन किए हैं. पुरुषों के समान महिलाओं को भी मंदिरों में प्रवेश का अधिकार दिलाने को लेकर उन्होंने कई आंदोलन किए हैं. आंदोलन के लिए वह शनि शिंगणापुर, त्र्यंबकेश्वर, महालक्ष्मी मंदिर, हाजी अली दरगाह और केरला के सबरीमाला मंदिर जैसे धार्मिक स्थलों में प्रवेश लेने की कोशिश भी कर चुकी हैं.

– महाजनादेश यात्रा में तमाशा
शनिवार को भाजपा की ‘महाजनादेश’ यात्रा पुणे आने वाली है, यह जानकारी मिलते ही देसाई ने मुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस को शराब की बोतलों का हार अर्पित करने की बात कही. उन्होंने हडपसर मार्ग से स्वारगेट इलाके में इस काम को अंजाम देना चाहा लेकिन ऐसा करने से पहले ही पुलिस ने देसाई को हिरासत में ले लिया. पुलिस ने बताया कि शनिवार देर रात पुलिस की महिला टीम, तृप्ति देसाई को उनके घर ले जाएगी लेकिन घर के बाहर पुलिस का पहरा रहेगा क्योंकि रविवार के दिन मुख्यमंत्री कुछ कार्यकर्मों के लिए पुणे में रहेंगे. ऐसे में एहतियातन ये उपाय किए गए हैं. देसाई अपने ही घर में नजरबंद रहेंगी.