Home पुणे पुणे : आखिरकार कड़े पुलिस बंदोबस्त में शुरू हुआ भामा आसखेड़ का...

पुणे : आखिरकार कड़े पुलिस बंदोबस्त में शुरू हुआ भामा आसखेड़ का काम

111
0
SHARE

पुणे (तेज समाचार डेस्क). प्रकल्प बाधितों द्वारा कार्य में बार-बार बाधा डालने की वजह से विगत कई माह से भामा-आसखेड़ प्रकल्प का काम शुरू ही नहीं हो पा रहा था. आखिरकार शुक्रवार से यह काम शुरू कर दिया गया. स्थानीय पुलिस की मदद ना मिलने की वजह से महापालिका प्रशासन ने सीआरपीएफ की मदद लेने का फैसला लिया था. उनकी तैनाती में शुक्रवार को यह काम शुरू किया गया. काम शुरू करने में जो प्रकल्प बाधित रोड़ा अटका रहे थे, ऐसे लोगों को पुलिस ने रात को ही स्थानबद्ध कर दिया था. इस वजह से ये लोग कुछ नहीं कर पाए. साथ ही बांध पर पूरी तरह से बंदोबस्त दिया गया था. मनपा प्रशासन की मानो तो अब यह काम शुरू रहा तो इस प्रकल्प का काम आगामी 8 माह में पूरा होगा.

-शहर के पूर्वी छोर के लोगों को मिलेगी राहत
भामा-आसखेड़ प्रकल्प के माध्यम से पुणे शहर को करीब 2.8 टीएमसी पानी मिल जाएगा. यह पानी पूर्वी इलाके के नागरिकों को मिलेगा. इसमें कलस, धानोरी, वडगांवशेरी, नगर रोड, येरवडा, विमाननगर ऐसे इलाकों का समावेश है. इन इलाकों को करीब 5 लाख लोगों को यह पानी मिल जाएगा. ऐसी जानकारी मनपा प्रशासन द्वारा दी गयी. प्रशासन की मानो तो अब तक प्रकल्प का 90 प्रतिशत काम पूरा हो चुका है. शेष काम जो करना है, वह पानी के नीचे है. इस वजह से यह काम करने में देरी होगी. आगामी 8 माह तक हम यह काम पूरा करेंगे. बारिश में भी काम नहीं रूकेगा. ठेकेदार द्वारा बारिश में भी यहां काम किया जाएगा.

– मनपा आयुक्त ने स्थानीय पुलिस की की शिकायत
यह काम शुरू करने के लिए महापालिका द्वारा बार-बार स्थानीय पुलिस से मदद मांगी गयी थी. लेकिन स्थानीय पुलिस द्वारा बार-बार टालमटोल का रवैया अपनाया जा रहा था. हाल ही में यह पुलिस प्रकल्प बाधितों से मिलने गयी थी, तब बाधितों द्वारा पुलिस को भी धमकाया गया था. इस वजह से डर के मारे ये लोग वहां बंदोबस्त नहीं दे रहे थे. इस वजह से इसकी शिकायत मनपा आयुक्त ने मुख्यमंत्री से की थी. साथ ही यहां काम करने के लिए सीआरपीएफ की मदद मांगी गयी थी. मुख्यमंत्री ने भी इस पर गंभीरता से ध्यान देकर प्रकल्प का काम शुरू किया है.